Blog

वो धुन्दली यादें- those faint memories

वो बाली उम्र वो नोक झोक, सिर्फ यही याद है बचपन का वो दौर।
पेहली नज़र का वो मिलना वो बातो का सिलसिला,
स्टेशन पर जब हमारा लड़ना, तो दोस्तों का वो खिलखिलाना।
धुन्द्ली सी याद दिल में है, पेहली बार आपकी बाहों में आना।
वो पल भी जब हम कुछ फासले मिटाने चले,
एक दूसरे के आगोश मैं खुद को भुलाने चले।
जाने फिर क्या दौर आया सब कुछ छूट गया,
बाहों का क्या मानो साया भी रूठ गया।
ना खबर आपको हमारी ना हमे आपको एक पल देखने का मौका,
जाने कयों मुरझा गया मोहब्बत का पनपता नन्हा सा पौधा।

देखा जब आपको बरसो बाद पेहली बार,
दौड कर सिमट जाऊँ बहों में मन का था यही हाल।
अफसोस फासले और दायरे अब इत्ने है दरमियां,
अपको छुप कर देखने का हुनर भी सीख लिया हमने आज।
भर लिया आपके चरणो की धूल को मांग में,
ख्वाबों में जी लिया बचपन की वो आरजू हमने ।

कुछ सोच कर ही मिलया होगा खुदा ने हमे आज,
वर्ना उम्र के इस दौर पर क्या है कुछ खास।
अब ना जाना छोड कर इल्तिजा है बस इतनी,
दोस्ती के नाम सही, ताउम्र रेहना संग मेरे गुजारिश है बस इतनी।

नोक झोक नाराजगी सब जायज़ अपनी जगह,
वादा करो अब ना छोडोगे पहले की तरह।

27291821-beautiful-young-woman-hugging-man-with-tender-love-and-passion

A faint memory of those time, our silly fights and arguments delight

The first time we met and then our never ending talks and fun.

I remember our silly fight at the station, which was fun for our friends at that moment.

A moment when you took me in your arms, I vaguely recall the feeling we both had at that moment.

What happened then that we went away, never to meet no contact in any way?

No news that I could get of you nor did you try to find me on the way.

The seed of love just died even before it could bloom and stay.

Ages later when I saw you, all I wanted was to run and wrap you in my arms.

But the distance between us is so far that now I have learned to feel you from that far.

There could be a reason why we met after so long, God must have planned something far more better.

Let’s fight and argue again, silly things could be the name. Argue as much you want but promise that you would not leave this time and go again…

Forever longing

I don’t have words to say how much I love you,

I can’t even express to show what you are to me.

Every breath of mine yearns for you,

My eyes have dried longing to see you.

For my mind always knew that I can’t have you,

But my heart crave just to be with you.

The first look of smile, the touch of warmth, the safe heaven with you

All I dream is a compassion and you.

Let miles of distance, ignorance and anger be there,

But my heart and my soul will forever crave and love you ‘o there.

 

Happy birthday little brother ⚘

IMG_20180224_151709.jpgI came across you through the WordPress media,

Your writings and thoughts inspired me a lot.

Comments, appreciations, discussions created a bond,

A relationship that grew to stay for long.

Last year your surprise was a beautiful gift,

Travelling all the way to meet me made me feel special.

The respect the love that you bestow upon  me,

Have no words to express how that means.

Today was the day when you where born,

Your parents love and dreams in a form.

Wishing you all happiness is I pray,

All your dreams and desires take a shape.

I won’t say life is easy without any bumps,

But I pray that you have strength to make an easy way.

Distance of miles could be there between us,

But our hearts are bonded for this life and after is a promise that I have.

 

happy birthday my Veerji “Daljit”

 

क्या खास है

कुछ तो खास है आपकी बातों में

लगते हो अपने पहले दिन से ।

मिले हो शुक्रिया उस खुदा का

रहे होगे कुच खास मेरे बीते जन्मो में ।

कोशिश करूंगी  निभाने की दोस्ती अपनी तरफ से

गलत कुछ हो जाये तो करना माफ नासमझ समझ कर।

Mind o mind

An anger, a frustration, a disappointment way to depression,

What is it that my mind keep thinking

Is all I keep wondering.

Gather myself oh mind oh mind,

I know it’s all that is in my hand.

Help me think and believe I can change

Give my mind a peaceful change.

पुराना एक दोस्त

आज मेरे दोस्त ने कही मुझसे एक बात,

क्या तुम लिख सकोगी मेरे लिए कुछ खास।

सोचा खूब, लिखूं क्या उसके बारे में क्योंकि

लडती थी मैं उससे बार बार हर बात

हर मौके पर ।

करता हर पल बातें आपनी करतूतों की

जो थी मेरे उसुलों और सोच से परे।

मिलती कभी ना थी मेरी सोच उअसे

लेकिन करता मेरी फिक्र वो रात सेवर।

बरसों बाद फिर हुई बात लेकिन

आज भी उसकी रह्ती वही बकवास।

पर जो उसकी तब जो थी खास बात

परवा करता मेरी उतनी आज भी वो है बात।

शुक्रिया ऐ दोस्त जो करता मुझ पर तू यकीन

वर्ना तो मैं खो चली थी खुद पर से यकीन ।

तहे दिल से शुक्रिया तेरा, कोशिश करूंगी

ना भूलूँ या टूटे खुद से विश्वास मेरा।

 

Thank you

Image from google

images.jpeg-1.jpg

पहेली

वो खाली खयालों का सिलसीला वो आन्सुओं का बिखरना,

तन्हाई मेरी दोस्त, वो परछाई मेरी जान।

सिमट गयी गलियारों में अपने, दामन को बनाया दायर मेरा।

सामने खुशी मेरी मुस्काती है, बिखरे बालों से मेरे बाहों में समाती है।

नन्हे हतों से गालों को सेहलाती है, माँ होने का एहसास करती है।

फिर भी जाने क्यों खोई सी हूँ मैं, खुद को क्यों इस कदर डूनड़ती हूँ मैं ।

अनजाना सा एक डर है, क्या है क्यों है ये एक पहेली है।

images.jpeg.jpg

 

वो दुनिया आज भी गुमनाम है मेरे ख्वाबों में बस जवान है

प्यार मेर कुछ ऐसा है, दिल में छुपा एक एहसास है।

कब कहाँ कैसे वो सम्भ्लेगा मन मे बस यही सवाल है ।

Failed myself

failed.jpgI don’t know how next life would be

What I am suppose to do.

An unknown fear linger in my mind,

That never goes whatever I do.

There was a time i was the confident lot,

Now I find myself always lost.

Not that I am not trying to be my old me,

But my fear has more power than me.

There was a time when I used to preach on confidence and strength

Now can’t practise coz I find my self failed.

धुन्द्ली हो चली मेरि जिन्दगी के ख्वाब,
गुम हो चली मैं अपने आप में बेनाम।
रूह भी अब पूछती है पता मेरा,
किस मोड़ पर हूँ ये मुझको तक इल्म कहां

Image from googleimages.jpeg.jpg